Headline • पाकिस्तान में मुंबई हमले का मास्टर माइंड हाफिज सईद गिरफतार • सावन मास के साथ शुरू हुई कांवड़ यात्रा• एपल भारत में जल्द शुरू करेगी i-phone की मैन्युफैक्चरिंग, सस्ते हो सकते हैं आईफोन• डोंगरी में इमारत गिरने से अबतक 16 लोगो की मौत, 40 से ज्यादा लोगो के मलबे में दबे होने की आशंका : दूसरे दिन भी रेस्क्यू जारी• मुंबई के डोंगरी में 4 मंजिला इमारत गिरी; 2 की मौत, 50 से ज्यादा लोगो के मलबे में फसे होने की आशंका• IAS टोपर को किया ट्रोल, मिला करारा जवाब • देर रात देखिये चंद्रग्रहण का नजारा, लाल नज़र आएगा चाँद • बालाकोट एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान ने भारत के लिए खोले बंद हवाई क्षेत्र ।• महिला सांसदों पर किये गए टिपण्णी से घिरे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प• सुप्रीम कोर्ट ने की आसाराम की जमानत याचिका खारिज • धोनी को संन्यास देने की तयारी में है चयनकर्ता, बहुत जल्द कर सकते है फैसला • तकनीकी कारणों की वजह से 56 मिनट पहले रोकी गयी चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग, इसरो ने कहा - जल्द नई तरीक करेंगे तय • भविष्य के टकराव ज्यादा घातक और कल्पना से परे होंगे : सेना प्रमुख जनरल विपिन रावत • इसरो के चेयरमैन ने बताई चंद्रयान-2 मिशन के लांच होने की तरीक, चाँद पर पहुंचने में लगेगा 2 महीने का समय • झाऱखंड के स्वास्थ मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी का रिशवत लेते वीडीयो वायरल, पुलिस ने की FIR दर्ज • राफेल भारत के लिए रणनीतिक तौर पर बेहद अहम साबित होगी : एयर मार्शल भदौरिया• उत्तराखंड : विधायक प्रणव सिंह चैंपियन BJP से बहार • चारा घोटाला मामले में लालू को मिली जमानत• आइटी पेशेवरों के लिए अमेरिका से अच्छी खबर• कर्नाटक संकट : बागी विधायक बोले इस्तीफे नहीं लेंगे वापस• 'अब बस' जाने क्या है मामला• सबाना के सपोर्ट में स्वरा• कर्नाटक का सियासी संग्राम जारी • भारत और न्यूजीलैंड का 54 ओवर का खेल आज• भारत बनाम न्यूजीलैंड


हरदोईः स्वर्ग से भी भला कोई लौट कर आ सकता है और वह भी रजिस्ट्रार कार्यालय में आकर बैनामा करने। यह बात सुनने में जरूर आश्चर्य होगा लेकिन हरदोई के रजिस्ट्रार कार्यालय में ऐसा हुआ है।

यहां स्वर्ग से आकर एक महिला अपने मकान का बैनामा कर चली गई। इसका खुलासा तब हुआ जब मकान में रह रहे लोगों ने मकान खाली करने से मना कर दिया और बताया कि उनके नाम बैनामा है। ऐसे में अब पुत्र एएसपी पूर्वी ज्ञानंजय सिंह के पास पहुंचा और मामले में एफआईआर दर्ज कराने की मांग की। एएसपी ने जांच के आदेश दिए हैं।

2 अगस्त 1978 को मृत सोनेश्री पत्नी सूरज प्रसाद करीब एक साल बाद 28 फरवरी 1979 को रजिस्ट्री दफ्तर पहुंच गई।

महकमे के अफसरों-कर्मचारियों के सामने उन्होंने अपनी जमीन मकान का बैनामा भी कर दिया। चौकिए मत, रजिस्ट्री दफ्तर में हुए बैनामे के समय दाखिल किए गए दस्तावेज यह बयां कर रहे हैं। 

दरअसल, सरजू प्रसाद मूल रूप से सुनैरा थाना पसिंगवां लखीमपुर खीरी के रहने वाले है और वर्तमान समय में वह बागियापुरवा कोतवाली शहर में रहते हैं।

एएसपी के पास पहुंचे उनके पुत्र कमलाकांत का आरोप है कि शहर कोतवाली आलूथोक दक्षिणी निवासी विजय कुमार शुक्ल व अजय प्रकाश शुक्ल पुत्रगण ओमप्रकाश शुक्ल ने अपने साथी कोतवाली देहात इलाके के अटवा असिगांव निवासी शिवसिंह पुत्र सोहनलाल व रंगपाल पुत्र कुंअरपाल के साथ मिलकर फर्जी महिला को उसकी मां बनाकर आलूथोक स्थित मकान का बैनामा करा लिया।

मामले की जानकारी जब उसको लगी तो उसने रजिस्ट्री कार्यालय से अभिलेख निकलवाये तो मामला सही पाया गया। 14 सितंबर 2018 को इन लोगों से मकान खाली करने को कहा तो मकान खाली करने से इंकार कर दिया। इस पर लोगों ने जान से मारने की धमकी दी।  अब कमलकांत ने मामले में एफआईआर दर्ज कराने की मांग की है। 

 

संबंधित समाचार

:
:
: